Free Hindi Poem Quotes by Darshita Babubhai Shah | 111751149

मैं और मेरे अह्सास

मैं और मेरी डायरी तेरी यादों में गुमसुम है l
बहके बहके हुए तेरे वादों से सुनमून है ll

दर

read more

View More   Hindi Poem | Hindi Stories