Hindi Shayri by Hasin Ehsas

तारीफ़ न हो ग़र तेरी .. तो हो गुनाह हो जाए
तेरी तारीफ़ में.. मेरा हर लफ़्ज़ फ़ना हो जाए
read more

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories