Hindi Shayri by Pragya Chandna

कमी तो कुछ नहीं फिर भी,
यह जिंदगी वीरान सी है।
यह दिल कुछ उदास सा है,
न जाने क्या तलाशता है।

-Pragya Chandna

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories