Hindi Shayri by शब्दांकूर : 111617057

एक उम्मीद सी जग जाती है कमबख्त
जब दर्द मुझे होता है आंसू तेरे बहते है

-शब्दांकूर

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories