Hindi Shayri by 007_kishu Parmar

उसकी निगाहों से तीर ऐसे लगे मेरे दिल को,
की दिल का वजूद ना मिल पाया जो जिस्म से रूह के करीब है।

लफ़्ज़ों से सुन

read more

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories