Hindi Poem by Vinod : 111531891

घनघोर घटा चारो ओर छाई है
दिल को कीसी की याद आई है

चारों तरफ खीली हरियाली हैं
फिर भी दिलमें बसी तन्हाई हैं

read more
Vinod 6 month ago

धन्यवाद 🙏

Vinod 6 month ago

धन्यवाद 🙏

Vinod 6 month ago

धन्यवाद 🙏

Vinod 6 month ago

धन्यवाद 🙏

View More   Hindi Poem | Hindi Stories