Hindi Shayri by Nimisha : 111500844

ज़िन्दगी की किताब पढ़ी है इस क़दर
चेहरे तमाम नज़र आने लगे हैं असल
@निमिषा

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories