Hindi Thought by vishwash hanswar : 111474601

मूर्ख दुसरो को समझकर
कब तक खुद को मूर्ख बनाओगे
जब खुद में झांकोगे तो
सत्य को समझ जाओगे।।
read more

View More   Hindi Thought | Hindi Stories