Hindi Shayri by Poorav : 111280560

माथे पर बिंदी आंखो मै काजल होंठो पर मुस्कुराहट , नकहे ये कुछ निशानियां थी उनकी जिसकी वजह से हम आजतक होश मै नहीं... read more

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories