Free Hindi Poem Quotes by Darshita Babubhai Shah | 111750673

मैं और मेरे अह्सास

मेरी नीदों मे चंद चाहत भरे ख्वाब है l
तेरी मुस्कराहट देख खिला माहताब है ll

दर्शिता

View More   Hindi Poem | Hindi Stories