Free Hindi Shayri Quotes by Dr Mrs Lalit Kishori Sharma | 111731811

आदमी चौरासी लाख योनियों से पार होकर फिर मनुष्य जन्म लेता है । दुर्भाग्य है कि वो फिर से एक नई योनी ढूंढ ने लगता है।

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories