Free Hindi Shayri Quotes by आचार्य जिज्ञासु चौहान | 111720069

भगवान ही देता है सहारा फिर क्यों उसे छीन भी लेता होगा ?!
वापस लेना था तो देता ही क्यों होगा?
जहां मेरा अपनापन ना हो

read more

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories