Free Hindi Shayri Quotes by Alok Mishra | 111713365

फुर्सत है आराम है आज-कल
जमाना छोड़ खुद का ख्याल है आज-कल
कराह कर दम तोड़ रहे हैं लोग
इंसानियत खूंटियो पर टंगी

read more

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories