Free Hindi Shayri Quotes by ALOK SHARMA | 111702218

आँखों के पर्दे नम हैं सूखने की चाह में
फूल मुरझाए तो बिछ गए कांटे राह में

ज़ीस्ते-रंग उड़ा लगे दुनिया बेरंग सी

read more
ALOK SHARMA 5 month ago

धन्यवाद !😊

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories