Hindi Shayri by Neerja Pandey

जब मौका आया नई शुरुआत का...
ये दिल क्यों पीछे लौटना चाहता है।
निर्मेश

-Neerja Pandey

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories