Hindi Good Evening by Sachinam : 111611062

"दर्द़ सह सहकर
बेदर्द़ बन गये हम इस क़दर,
मोम़ जैसे पिघ़लते थे
पर अब बन गये पत्थ़र !!
read more

View More   Hindi Good Evening | Hindi Stories