Hindi Poem by Mugdha : 111609708

आओ हम सब कुछ इस तरह से दीप पर्व मनायें
मन से ईर्ष्या द्वेष बैर भाव का कचरा हटाएं
जीवन की दीवारों पर प्यार का रंग

read more
Ratna Raidani 6 day ago

Bahut shaandar abhivyakti.

Raj 2 month ago

Nice Mugdha ji

View More   Hindi Poem | Hindi Stories