Hindi Shayri by ए- हुस्न - की - राजकुमारी : 111601005

किसी को तारों के शहर मै जाना हो तो,
संपूकॅ जरूर करे, सुबह लो शाम को तारो के,
शहर मै!
ऐ-हुस्न-की-राजकुमारी 🍷

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories