Hindi Shayri by Bhupendra Dongriyal : 111567964

जनाब! कुदरत के हाथ का करिश्मा तो देखिए।
अब घोड़ों की पीठ पर गधे लादे जाते हैं।।

भूपेन्द्र डोंगरियाल

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories