Hindi Shayri by Moni Patel : 111564647

लो फिर इस चांद की चांदनी में, ‌
वो हसीन रात लिप्त हुई .....

moni

दिल धड़कने भुल गया जब,
बातें नजरों कि नजर

read more

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories