Hindi Shayri by Arjuna Bunty : 111538182

इंसान हूं साहब, इंसानियत मेरे अंदर आ ही जाती है
और इस दिल में आज भी राम बसते है तो #

read more

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories