Hindi Blog by Gopi Mistry : 111511406

और फिर मिले दोनो, ज़िन्दगी के ना चाहे मोड़ पर,
दोनो बंध गए थे अनचाही दोर से,
बनना चाहते थे एक दूजे के हमसफ़र, पर दो

read more

View More   Hindi Blog | Hindi Stories