Free Hindi Poem Quotes by रनजीत कुमार तिवारी | 111485174

मेरा राज दुलारा कहकर, जिनको मैंने पाला ‌।
लहुलुहान हुआ लाडला, हम सबका रखवाला।।
सिसक रही मां की ममता अपने बेटे को

read more

View More   Hindi Poem | Hindi Stories