Hindi Poem by Gyan Prakash Peeyush

(मातृ दिवस पर)


1.
घर में जब माँ है होती
सब कुछ ठीक-ठाक रहता
बालक निश्चिंत होकर खेलता
खाता-पीता-मचलता

read more
shekhar kharadi Idriya 1 year ago

माँ..का अत्यंत ह्रदय स्पर्शित वर्णन

Neha sharma 1 year ago

माँ के प्रति बहुत ही उत्कृष्ट भाव एवं सुन्दर चित्र

View More   Hindi Poem | Hindi Stories