Hindi Poem by Gyan Prakash Peeyush

(मातृ दिवस पर)


1.
घर में जब माँ है होती
सब कुछ ठीक-ठाक रहता
बालक निश्चिंत होकर खेलता
खाता-पीता-मचलता

read more
shekhar kharadi Idriya 10 month ago

माँ..का अत्यंत ह्रदय स्पर्शित वर्णन

Neha sharma 10 month ago

माँ के प्रति बहुत ही उत्कृष्ट भाव एवं सुन्दर चित्र

View More   Hindi Poem | Hindi Stories