Hindi Thought by Urmi chauhan : 111421375

बस बोहत हुआ..
कुछ मेरी व्यथा का भी एहसास करो..
हा में मजदूर हु..लेकिन में इंसान भी हु..
भूखा हु कितने दिनों से..

read more

View More   Hindi Thought | Hindi Stories