Hindi Poem by Yakshita

#आदर
करें सभी का आदर
ना करे किसी का निरादर
आदर करना हमारा धर्म
मानवता का यही

read more
रमेश पाली 11 month ago

बहुत सुंदर... सब गुनग्य सब परहितकारी (सभी गुणवान हों.. सभी एक दूसरे का हित चाहने वाले हों)__रामचरितमानस

View More   Hindi Poem | Hindi Stories