Hindi Poem by Gyan Prakash Peeyush

विश्व पुस्तक दिवस पर

पुस्तक गुरु को शत नमन , दूर करे अज्ञान।
ईश कृपा लवलेश से, जागे नव इंसान।।

धरती पर हैं

read more

View More   Hindi Poem | Hindi Stories