Hindi Poem by Manisha Hathi

कौन कहता है समय थम सा गया है ,
बस अभी शुरू हुवा है ,
इत्मिनान से समय की डोर को थाम के रखिये ,
बहती जिंदगी को बस थोड़

read more

View More   Hindi Poem | Hindi Stories