Hindi Shayri by Rudra : 111324723

न दे सजा मुझे, कि बेक़सूर हूँ मैं,
थाम ले हाथ, ग़मों से चूर हूँ मैं,
तेरी दूरी के चलते पागल हूँ मैं ,
और सब कहते हैं क

read more
Rudra 8 month ago

शुक्रिया मोहतरमा!!

Parmar Geeta 8 month ago

वाह लाजवाब अप्रतिम... ✍️👌👏👏👏

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories