Hindi Shayri by Rudra : 111316642

तू नया है तो दिखा सुब्ह नई शाम नई

वर्ना इन आँखों ने देखे हैं नए साल कई

Rudra 9 month ago

धन्यवाद जी

Rudra 9 month ago

शुक्रिया मोहतरमा

Rudra 9 month ago

शुक्रिया जी!!! सबसे बडा तो तेरे न होने का ही गम है जीस में तू हो शामिल उस खुशी के सामने सारी खुशियां कम है!!!

Parmar Geeta 9 month ago

वाह बहुत खूब.. 👌 यहीं दुवा करती हूँ खुदा से की आप की जिन्दगी में कोई गम न हो, नये साल पर मिले हजारों खुशियां, चाहें उनमें शामिल हम न हो..!!

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories