Hindi Shayri by alpprashant : 111316630

मेरी आशिकी के चर्चे है सारे शहेर में
अहेसास ए मुहब्बत है "अल्प" जिगर में

©"अल्प" प्रशांत
Prashant Panchal

०१.०१.२०२

read more

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories