Hindi Shayri by Apexa Desai : 111306791

एक अधूरा इश्क और उस पर कागज-कलम का साथ,
मिले नहीं कभी फिर भी हर लफ्ज में जैसे जन्मों का साथ।

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories