Hindi Shayri by Anjali Cipher : 111301265

ग़ौर से ऐसे मुझे देखा किसी ने देर तक
मुस्कुराहट के मुखौटे में दरारें आ गईं
...अंजलि सिफ़र

View More   Hindi Shayri | Hindi Stories