Hindi Poem by Mukteshwar Prasad Singh : 111284571

आकाश रंग गया नीला नीला,

उल्लास भर गया पीला पीला,

आँखों में जब से समाया चेहरा,

नर्म-मुलायम सा खिला खिला।

View More   Hindi Poem | Hindi Stories