Hindi Song by Rakesh Kumar Pandey Sagar : 111282767

कभी जो बरसात की फुहारें,
दुआरे तेरे बरसती होंगी,
सजल नयन डबडबाती आँखें,
पिया मिलन को तरसती होंगी,
जो आके छेड़

read more

View More   Hindi Song | Hindi Stories