Gujarati Poem status by Ravi Nakum on 14-Jun-2019 08:21pm

अंधेरे से उठता उजाला हूं में,
मुझे छुपानां तेरे बस में नहीं।

राख़ से उठा हुआ इंसान हूं में,
मुझे मिटाना तेर

read more

View More   Gujarati Poem Status | Gujarati Jokes